स्पोर्ट्स

0 237

 undefined

आई आई एन डेस्क –  ग्लेन मैक्सवेल  के हरफनमौला प्रदर्शन की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने रविवार को वाका मैदान पर इंग्लैंड को खिताबी मुकाबले में 112 रनों की करारी शिकस्त देकर ट्राई सीरीज पर कब्जा कर लिया है. ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 278 रन बनाए. लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम 39.1 ओवरों में केवल 166 रनों पर सिमट गई.

ऑस्ट्रेलिया की ओर से मैक्सवेल ने चार जबकि करीब एक महीने बाद मैदान पर वापसी करने वाले मिशेल जॉनसन ने तीन विकेट लिए. जोस हैजलवुड को दो सफलता मिली.

इंग्लैंड की ओर से रवि बोपारा ने सबसे ज्यादा 33 रन बनाए. स्टुअर्ट ब्रॉड के साथ बोपारा ने 32 रनों की और स्टीवन फिन के साथ 30 रनों की साझेदारी कर हार को कुछ देर के लिए टाला. स्टुअर्ट ब्रॉड ने 24 रन और स्टीवन फिन ने केवल 6 रन बनाए. कप्तान इयान मोर्गन बिना खाता खोले पवेलियन लौटे. सलामी बल्लेबाज मोइन अली ने 26 जबकि जोए रूट ने 25 रनों का योगदान दिया.

टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम ने 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 278 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया ने आखिरी 10 ओवरों में 86 रन जोड़े. जेम्स फॉल्कनर 24 गेंदों में चार चौकों और चार छक्कों की मदद से 50 रन बनाकर नाबाद लौटे.

ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत हालांकि खराब रही और उसके पहले चार बल्लेबाज केवल 60 रन जोड़ सके. इसके बाद ग्लेन मैक्सवेल (95) और मिशेल मार्श (60) के बीच पांचवें विकेट के लिए हुई 141 रनों की साझेदारी ने टीम को मुश्किल हालात से निकलने में मदद की.

मैक्सवेल ने 98 गेंदों की अपनी पारी में 15 चौके लगाए. वहीं, मार्श ने भी 68 गेंदों में सात चौकों और एक छक्के की मदद से अहम पारी खेली. इंग्लैंड की ओर से ब्रॉड ने तीन जबकि जेम्स एंडरसन ने दो विकेट हासिल किए. फिन और मोइन अली को एक-एक सफलता मिली. श्रृंखला में सबसे ज्यादा 12 विकेट हासिल करने वाले ऑस्ट्रेलिया के मिशेल स्टार्क को ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुना गया.

0 296

... Leander Paes for the first time at the Australian Open. (Photo: AP

मेलबर्न – महान टेनिस खिलाड़ियों लिएंडर पेस और मार्टिना हिंगिस के खाते में एक और ग्रैंड स्लैम टाइटल जुड़ गया है। पेस और हिंगिस की जोड़ी ने ऑस्ट्रेलियन ओपन मिक्स्ड डबल्स का खिताब अपने नाम कर लिया हैसातवीं वरीयता वाली इस जोड़ी ने क्रिस्टीना और डेनियम नेस्टर की जोड़ी को सीधे सेटों में 6-4, 6-3 से हराया।

यह खिताब लिएंडर पेस के करियर का 15वां और हिंगिस के करियर का 16वां ग्रैंड स्लैम है। पेस और हिंगिस की जोड़ी हाल ही में रैंकिंग में नंबर एक पर भी रह चुकी है। हिंगिस ने संन्यास लेने के बाद 2 साल पहले कोर्ट पर वापसी की थी।

क्रिस्टीना और नेस्टर की जोड़ी ने सेमीफाइनल में सानिया मिर्जा और सुआरेज की जोड़ी को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। मुकाबला शानदार रहा मगर पेस और हिंगिस की जोड़ी को जीत हासिल करने में ज्यादा मुश्किल का सामना नहीं करना पड़ा।

 

0 274

 

 

 

 

Team India

 

आई आई इन डेस्क  – ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर एक भी मैच न जीत पाने वाली टीम इंडिया वर्ल्ड कप से पहले आराम करने और अपनी लय में वापस आने के लिए एक लग्जरी रिजॉर्ट में वक्त बिताएगी। शुक्रवार को पर्थ में ट्राई सीरीज से बाहर होने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इस बात पर जोर दिया था कि टीम को क्रिकेट से पूरी तरह से ब्रेक लेने की जरूरत है क्योंकि वे पिछले दो महीने से ऑस्ट्रेलिया में हैं। इस बात को महसूस करते हुए कि खिलाड़ी मानसिक और शारीरिक तौर पर थके हुए हैं बीसीसीआई ने मुरझाई हुई टीम को फिर से तरोताजा करने के लिए ऐडलेड के नजदीक एक रिजॉर्ट बुक कराया है।

एक टॉप बीसीसीआई अधिकारी ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, ‘हम समझते हैं कि वे थके हुए हैं। हमने उनके लिए ऐडलेड के पास एक रिजॉर्ट बुक किया है। वहां वे अपने मोबाइल फोन को स्विच ऑफ करके आराम कर सकते हैं और तरोताजा हो सकते हैं। हमने उन्हें ऑस्ट्रेलिया के किसी भी रिजॉर्ट में रुकने का विकल्प दिया था, जिनमें से कुछेक रिजॉर्ट गोल्ड कोस्ट के पास हैं।’

इस बात को महसूस करते हुए कि कुछ खिलाड़ी घर की याद से पीड़ित है। बीसीसीआई ने खिलाड़ियों की पत्नियों और गर्लफ्रेंड्स को भी रिजॉर्ट में आने की इजाजत दे दी है। हालांकि पत्नियों-गर्लफ्रेंड्स को 14 फरवरी को वर्ल्ड कप शुरू होने पर वापस जाना होगा। हालांकि टीम के सेमीफाइनल में पहुंचने पर वे दोबारा वापस ऑस्ट्रेलिया जा सकती हैं।

अधिकारी ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि खिलाड़ी पूरी तरह से टूर्नमेंट पर फोकस करें। हम इस मामले में तब एक बार विचार करेंगे जब (यदि) हम सेमीफाइनल में पहंच जाएं। हालांकि सेमीफाइनल तक पत्नियां-गर्लफ्रेंड्स अपने खिलाड़ियों को ऐक्शन में देखने के लिए ऑस्ट्रेलिया की यात्रा कर सकती हैं, हालांकि उन्हें उनके साथ रुकने की अनुमति नहीं होगी।’

यह बात भी सामने आई है कि धोनी वर्ल्ड कप के दौरान पापा बन सकते हैं। बच्चे के जन्म के बाद वह अपनी पत्नी साक्षी के साथ रहने के लिए भारत वापस आ सकते हैं। अधिकारी ने कहा, ‘किसी भी आपात स्थिति को व्यक्तिगत आधार पर सुलझाया जाएगा। हम हमेशा से ऐसी स्थितियों के लिए इजाजत देने के इच्छुक हैं।’

0 290
धोनी अपनी पत्नी साक्षी के साथ
आई आई इन डेस्क नई दिल्ली –
वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया का प्रदर्शन महेंद्र सिंह धोनी को किसी तरह की खुशी नहीं दे पा रहा। हालांकि क्रिकेट से परे जल्द ही एक खुशी धोनी को मिल सकती है। शायद वर्ल्ड कप के दौरान ही धोनी के दरवाजे पर आएगी वह खुशी।

मीडिया में आई खबरों की मानें तो धोनी की पत्नी साक्षी प्रेगनेंट हैं और फरवरी में ही किसी दिन डिलिवरी की संभावना है। क्रिकेट वर्ल्ड कप 14 फरवरी से शुरू हो रहा है। ऐसे में धोनी को पिता बनने की खुशी वर्ल्ड कप के दौरान भी मिल सकती है।

धोनी के हर मैच में स्टेडियम से उनका उत्साह बढ़ाने वाली साक्षी पिछले 7-8 महीनों से नजर नहीं आ रही हैं। साक्षी की प्रेग्नेंसी की खबरों के पीछे यह भी एक बड़ा कारण है। सूत्रों के अनुसार धोनी और साक्षी दोनों के परिवार बहुत खुश हैं और बेसब्री से उस पल का इंतजार कर रहे हैं। हालांकि कुछ समय पहले भी इसी तरह की खबर आई थी, लेकिन उसमें सचाई नहीं थी।

आपको बता दें कि पिछले साल इंग्लैंड दौरे पर गई टीम इंडिया के कप्तान धोनी से जब फैमिली प्लान के बारे में मीडिया ने सवाल किए थे तो उन्होंने हंसते हुए कहा था, ‘हम प्रैक्टिस कर रहे हैं’।

0 281

आस्ट्रेलियन ओपन : सेरेना बनीं महिला सिंगल्स चैम्पियन 

आई आई इन डेस्क – अमेरिकी टेनिस स्टार सेरेना विलियम्स ने शनिवार को रूस की मारिया शारापोवा को 6-3, 7-6 (7-5) से हराकर साल के पहले ग्रैंड स्लैम आस्ट्रेलियन ओपन का महिला सिंगल्स खिताब जीत लिया। सेरेना छठी बार यहां चैंपियन बनी हैं।

विश्व की दूसरी वरीयता प्राप्त खिलाड़ी शारापोवा दूसरी बार खिताब जीतने के लिए प्रयासरत थीं। सेरेना ने मेलबर्न पार्क में 2003, 2005, 2007, 2009 औक 2010 में खिताबी जीत हासिल की है। शारापोवा ने 2008 में यहां चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था। विश्व की सर्वोच्च वरीय महिला खिलाड़ी सेरेना अपने करियर में अब तक 19 सिंगल्स ग्रैंड स्लैम खिताब जीत चुकी हैं।

वह छह बार आस्ट्रेलियन ओपन, दो बार फ्रेंच ओपन, पांच बार विंबलडन और छह बार अमेरिकी ओपन जीत चुकी हैं। अब वह सर्वाधिक सिंगल्स ग्रैंड स्लैम खिताब जीतने वाली तीसरी महिला खिलाड़ी बन गई हैं। मागरेट कोर्ट ने सबसे अधिक 24 खिताब जीते हैं। इसके बाद स्टेफी ग्राफ का नाम है, जिन्होंने अब तक 22 खिताब जीते हैं। सेरेना और हेलेन विल्स मूडी 19-19 खिताबों के साथ तीसरे क्रम पर हैं।

ओपिनियन