रीजनल

0 51

Central PSU,  ITDC today signed MOU with Hyderabad based  M/s Suraas Impex for developing a  mega tourism destination project at Bairav Lanka in Kakinada, East Godavari District of Andhra Pradesh for an estimated cost of Rs 550 crores in the initial phase-I. This project is the first  of its kind for the State owned ITDC with any private player.

 

0 75

चाय बेचनेवाले को आप किसी भी नजर से देखते हों, क्या लगता है? हर महीने वह कितने रुपये कमा सकता है? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पकौड़ा रोजगार पर मजाक बनाने वाले भी शायद इस बात पर यकीन न करें, लेकिन पुणे में एक चायवाले ने कमाई का नया रेकॉर्ड बनाया है। इस चायवाले ने हर महीने 12 लाख रुपये की कमाई कर बड़े-बड़ों को पीछे छोड़ दिया है।

पुणे में ‘येवले टी हाउस’ चाय पीने के लिए सभी का पसंदीदा स्पॉट बन गया है। यह शहर के कुछ फेमस स्टॉल्स में से एक है। येवले टी हाउस के को-फाउंडर नवनाथ येवले कहते हैं कि बहुत जल्द वह इसे अंतरराष्ट्रीय ब्रांड बनाने वाले हैं।

नवनाथ ने कहा, ‘पकौड़ा बिजनस से उलट चाय बेचने का बिजनस भी भारतीयों को रोजगार दे रहा है। यह तेजी से बढ़ रहा है और इसे लेकर मैं बेहद खुश हूं।’ फिलहाल, पुणे भर में येवले टी स्टॉल के तीन सेंटर हैं और हर सेंटर पर करीब 12 लोग काम करते हैं।

 

0 74

नई दिल्ली.गाजियाबाद के इंदिरापुरम में घर के बाथरूम में एक दंपति की लाश मिलने से सनसनी फैल गई। दोनों मृतकों के शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था। एसएसपी एचएन सिंह ने बताया कि दोनों के शवों का पोस्टमार्टम हो गया है, लेकिन रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। पुलिस ने फोरेंसिक लैब में जांच के लिए विसरा प्रिजर्व करा दिया है।ये था मामला…

– जानकारी के मुताबिक, ज्ञानखंड 1 में नीरज सिंघानिया, पत्नी रुचि सिंघानिया और बेटी पिहू के साथ रहते थे। नीरज मोबाइल कंपनी मैट्रिक्स में डीजीएम और पत्नी रुचि अमेरिका की आई कंपनी में काम करती थीं।

– वे मूल रूप से बरेली के रहने वाले थे। साथ में छोटा भाई वरुण उसकी पत्नी व बहन भी रहती हैं। शुक्रवार को नीरज के पिता प्रेमप्रकाश सिंघानिया का जन्मदिन और रुचि के माता-पिता की मैरिज एनिवर्सरी थी।

– सभी मिलकर इसे रात में सेलिब्रेट करने वाले थे। इसके लिए रुचि के पैरंट्स भी यहीं आए हुए थे। होली मनाकर शाम करीब साढ़े 5 बजे सभी अपने-अपने कमरे में चले गए।

– रुचि खाना बनाने की बात कहकर बाथरूम में चली गई। नीरज के पिता प्रेमप्रकाश सिंघानिया के अनुसार शाम 7:30 बजे के करीब उन्होंने नीरज के रूम को नॉक किया लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।

ऐसे पता चला हो गई है डेथ

– नीरज के पिता ने सोचा कि कुछ देर बाद पति-पत्नी उठ जाएंगे। रात 9:30 बजे के करीब वापस उन्होंने बेडरूम को नॉक किया, लेकिन इस बार भी कोई जवाब नहीं मिला।

– इसके बाद उन्होंने अपने छोटे बेटे वरुण को बताया तो उसने स्टूल लगाकर बेडरूम के अंदर झांका। वरुण को बाथरूम के अंदर अपनी भाभी का पैर नजर आया।

– इस पर परिवार को कुछ संदेह हुआ। बेडरूम का दरवाजा तोड़कर वे अंदर घुसे तो देखा कि नीरज और रुचि बाथरूम के अंदर बेहोश पड़े थे।

– मैक्स हॉस्पिटल से डॉक्टर बुलाया गया, जिसने नीरज और रुचि को मृत घोषित कर दिया।

– प्रेमप्रकाश सिंघानिया ने बताया कि बाथरूम के अंदर गैस गीजर लगा हुआ है, लेकिन वह इस्तेमाल नहीं किया गया है।

– बाल्टी के अंदर भी पानी मौजूद नहीं था. ऐसे में दोनों की मौत को लेकर पूरा परिवार स्तब्ध है कि आखिर उनके बेटे-बहू की मौत कैसे हुई।

0 76

इन्वेस्टर्स समिट में यूपी पुलिस की एक बेहतर तस्वीर देश और दुनिया के सामने पहुंचे इसके लिए युवा और फिट पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। ड्यूटी में लगाए गए पुलिस कर्मी झुंड में न खड़े हों और सतर्क व सजग रहें। ये कहना है डीजीपी ओपी सिंह का। वे रविवार को इन्वेस्टर्स मीट के लिए यातायात प्रबंधन की समीक्षा कर रहे थे।

डीजीपी ने कहा कि समिट पुलिस बल के लिए अपनी अच्छी छवि प्रदर्शित करने का मौका भी है। देश-विदेश से आने वाले पुलिस को देखकर अपनी धारणाएं बनाएंगे। ऐसे कार्यक्रम स्थल पर जिन पुलिस कर्मियों सिपाहियों और दरोगाओं को लगाया जाए वे युवा हों और अंग्रेजी जानते व समझते हों, पूरी तरह से फिट हों। इनकी वर्दी एक समान होनी चाहिए।

डीजीपी ने निर्देश दिए कि पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाते समय यह ध्यान रखा जाए कि पुलिस कर्मी झुड में न खड़े हों। इसकी जिम्मेदारी आईजी रेंज सुजीत पांडेय को दी गई है। समिट के दौरान राजधानी के ट्रैफिक प्लान को लेकर एसएसपी दीपक कुमार ने डीजीपी के सामने प्रजेंटेशन दिया।

इसमें बताया गया कि वीवीआईपी के लिए अलग और अन्य मेहमानों के लिए अलग अगल गेट से प्रवेश की व्यवस्था रहेगी। प्रधानमंत्री के लिए व्यवस्था पूरी तरह से अलग रहेगी। आयोजन स्थल इंदिरागांधी प्रतिष्ठान के अंदर 350 और 250 गाड़ियां पार्क होने की जगह है। एयरपोर्ट से लेकर आयोजन स्थल तक यातायात सुगम रहे इस पर खास ध्यान दिया जा रहा है।

हर होटल के लिए एक राजपत्रित अधिकारी नियुक्त

 

डीजीपी ने निर्देश दिए कि जिन होटलों में मेहमान रुकेंगे वहां कम से कम एक-एक राजपत्रित अधिकारी की उपस्थिति जरूर रहे। किसी को कोई असुविधा न होने पाए। पुलिस कर्मियों के साथ साथ मजिस्ट्रेट स्तर के अधिकारियों को भी लगाए जाने पर विचार किया गया और इसके लिए कमिश्नर लखनऊ व अन्य अधिकारियों से समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए।

0 61

The state Health department’s plan to set up super specialty hospitals in Chak Ganjaria may become a reality during the Uttar Pradesh Investors Summit, to be held on February 21 and 22.

The department is likely to sign an MoU with private players to set up two such hospitals. It has allotted 20 acre land to Medical and Health department acquiring 850 acre Chak Ganjaria farmland from the Animal Husbandry department.

Principal secretary, Health and Family Welfare, Prashant Trivedi said talks were on with private players to set up two super specialty hospitals, having 1000 beds, on 10-acre area each. The Health department will sign MoUs with leading healthcare companies during the investors submit. The hospitals will provide treatment to the poor patients under Central Government Health Scheme (CGHS) rate. General category patients will be charged fee fixed by the hospital administration, he said.

The state government has already set up super specialty cancer hospital in the Chak Ganjaria area and the Health department has also tied up with private players to run 25 hospitals under PPP model. The Department has also shot off letter to the development authorities as well as industrial development authorities to allot land for the establishment of the hospitals under private sector.

The entry of the private sector in the medical sector is likely to give the much needed boost to the development activities in Chak Ganjaria. The government had planned to use 320 acre land for setting up IT city, IIIT, UP administrative service academy and a modern milk processing unit. The remaining 530 acre is likely to be used for residential, commercial complexes and green area.

At the Uttar Pradesh Investors Summit, the state government wants to showcase the investment opportunities and potential in various sectors. The summit aims to give a platform to the heads of states and governments, ministers, leaders from the corporate world, senior policy makers, heads of international institutions and academia from around the world to further the cause of economic development in the state and promote cooperation, said a senior state government officer.

UP minister for industrial development Satish Mahana said the state government had assured investors a system of providing all the necessary clearances online under a single window system and that the government expected an investment of Rs 5 lakh crore in next five years. The state government hoped the new investment will lead to creation of 20 lakh jobs, he said.

 

0 463

लखनऊ 4 फरवरी .  8 फरवरी को सर्वोच्च न्यायालय में राममंदिर पे सुनवाई हो इससे पहले ही लखनऊ से मंदिर निर्माण के मुद्दे को हवा देना शुरू कर दिया गया है ! अयोध्या में प्रभु श्री राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण हेतु  जन आंदोलन की तैयारी हो रही है इसी के चलते लखनऊ में एक विशाल धर्म संसद बुलाने की तैयारी चल रही है धर्म संसद में देश के सभी धर्माचार्यों, महामंडलेश्वरों, पीठाधीश्वरों, संत जनों, आदि जगद्गुरु शंकराचार्यो को आमंत्रित किया जाएगा ! धर्म संसद की तिथि तय करने के लिए कल ( आज )  लखनऊ के गन्ना संस्थान में उत्तर राज्य नवनिर्माण सेना द्वारा हिंदू स्वाभिमान सम्मेलन बुलाया गया है!  सम्मेलन में साध्वी ऋतंभरा जी, दीदी साध्वी प्रज्ञा जी, आचार्य धर्मेंद्र जी महाराज ,स्वामी धर्मेश्वर आनंद जी महाराज, जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी नरेंद्रानंद जी महाराज, स्वामी मनोज दास जी, स्वामी यति नरसिंहानंद सरस्वती जी ,आचार्य चंद्रांशु जी महाराज,  महंत राजू दास जी वह देश के अन्य बड़े संतो को आमंत्रित किया गया है होटल लेबुआ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उत्तर राज्य नवनिर्माण सेना ( उनसे)  के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने बताया कि लखनऊ में होने वाले हिंदू स्वाभिमान सम्मेलन में सभी संतों द्वारा धर्म संसद का प्रस्ताव पारित कर उसकी तिथि का ऐलान किया जाएगा अमित जानी ने कहा की 8 फरवरी से सुप्रीम कोर्ट में श्री राम मंदिर की सुनवाई होने जा रही है राम मंदिर पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय क्या फैसला दे ?? यह जानने के लिए वह उत्सुक नहीं है क्योंकि राम मंदिर याचना का नही स्वाभिमान का विषय है , न अमित जानी याची है न ही याचिकाकर्ता है!  उन्होंने कहा कि मार्च में भारतीय जनता पार्टी राज्यसभा में पूर्ण बहुमत प्राप्त कर लेगी ऐसे में राम जन्मभूमि के मुद्दे से जिन लोगों का राजनीति में प्रादुर्भाव हुआ है उन लोगों की नैतिक, धार्मिक, आध्यात्मिक जिम्मेदारी है कि वह संसद की दोनों सदनों में कानून पास करके प्रभु श्रीराम के मंदिर का निर्माण कराएं ! माननीय सर्वोच्च न्यायालय में राम मंदिर की पैरवी कर रहे विद्वान अधिवक्ता गण और देश में राम मंदिर निर्माण के संकल्प पर सरकार चला रहे हिंदूवादी राम भक्तों से हमारी उम्मीद लगातार बनी हुई है कि वह प्रभु श्रीराम के मंदिर के निर्माण में महती भूमिका निभाएंगे किंतु यदि एक समय सीमा के तहत माननीय सर्वोच्च न्यायालय निर्णय नहीं देती है तथा केंद्र सरकार राम मंदिर के निर्माण को गैर जरूरी समझकर प्राथमिकता में शामिल नहीं करती है तो राम मंदिर का निर्माण कब हो ??? यह धर्म संसद तय करेगी! धर्म संसद में राम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण की तारीख तय होगी और कल होने वाले हिन्दू स्वाभिमान सम्मेलन में धर्म संसद की तारीख तक होगी! प्रेस वार्ता में विश्व सनातन संघ के राष्ट्रीय प्रचारक उपदेश राणा ने कहा कि राम राजनीति का विषय नहीं है राम कोई मुद्दा भी नहीं है,  राम इस देश के नहीं वरन पूरी दुनिया में रहने वाले हिंदुओं की आस्था का सवाल है जब हम रामलला के दर्शन हेतु अयोध्या जाते हैं और देखते हैं कि प्रभु तंबू में बैठे हैं तो यह दृश्य देखकर आंख में आंसू आ जाते हैं! हिंदू जनमानस से सवाल करें कि मंदिर कब बनेगा? तो हिंदू कहता है BJP बनाएगी जबकि यह BJP का नहीं, पूरे देश के हिंदुओं का दायित्व है!  राम जन्मभूमि निर्माण के लिए होने वाले आंदोलन में हिंदुओं को सपा, बसपा ,कांग्रेस, भाजपा से ऊपर उठकर ,अब एक मंच पर आना होगा ! उन्होंने यह भी कहा कि यदि इतने बड़े हिंदू समाज के होते प्रभु श्रीराम को तंबू में रहना पड़ रहा है तो यह हमारे लिए शर्म का विषय है प्रेस वार्ता में पवन शर्मा सत्यजीत दहिया रश्मि सिंह भारत सिंह राहुल मणि त्रिपाठी शशिकांत शर्मा राहुल उपाध्याय आदि उपस्थित रहे

0 75

श्री आनंदपुर साहिब(विवेक गौतम कोटला)

पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने रविवार को खालसा पंथ की धरती श्री आनंदपुर साहिब
में श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के 350वें प्रकाश पर्व पर आयोजित समागम में शिरकत की। इस
दौरान उन्होंने पंजाब में नशा तस्करी को लेकर चिंता जताई। कहा कि राज्य में नशे को रोका

जाना अति आवश्यक है। इसके अलावा पूर्व पीएम ने महिला उत्थान, बाल शिक्षा, पर्यावरण
संरक्षण जैसे मुद्दों पर भी बात की।
उन्होंने कहा कि महिला और पुरुष के बीच में फर्क नहीं होना चाहिए। आज इस बात की सबसे
ज्यादा आवश्यकता है कि बच्चों को अच्छी शिक्षा दी जाए। पर्यावरण को लेकर उन्होंने कहा कि
सिख गुरुओं ने पर्यावरण को लेकर की बात कही है। पंजाब सरकार और पंजाब के लोगों को
पर्यावरण की रखवाली के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि समय आ गया है जब लोगों
को पर्यावरण की तरफ ध्यान देना चाहिए।

इससे पूर्व समागम को संबोधित करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि
चमकौर साहिब में स्थापित होने वाली स्किल यूनिवर्सिटी श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के नाम पर
स्थापित की जाएगी। इस मौके पर उन्होंने केंद्र सरकार से श्री आनंदपुर साहिब से दमदमा
साहिब और दमदमा साहिब से हुजूर साहिब जाने वाली सड़क का नाम श्री गुरु गोबिंद सिंह जी
के नाम पर रखने की मांग की।

कार्यक्रम से पूर्व पूर्व पीएम ने तख्त श्री केसगढ़ साहिब में माथा टेका। एसजीपीसी सदस्य
अमरजीत चावला ने उन्हें सिरोपा देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री कैप्टन
अमरिंदर सिंह को भी सिरोपा देकर सम्मानित किया गया। समारोह में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष
सुनील जाखड़, पंजाब कांग्रेस प्रभारी आशा कुमारी, अंबिका सोनी, परनीत कौर, नवजोत सिंह
सिद्धू, मनप्रीत बादल, साधु सिंह धर्मसोत, तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, मंडी बोर्ड के चेयरमैन लाल
सिंह, एचएस हंसपाल, सुरजीत पातर आदि भी शामिल हुए।
अकाली दल ने जताया पोस्टर पर एतराज
अकाली दल ने गुरु गोबिंद सिंह जी के 350वें प्रकाश पर्व पर जारी किए गए पोस्टर में गुरु की
फ़ोटो के अपमान का आरोप लगाया है। अकाली दल के उप प्रधान डॉक्टर दलजीत सिंह चीमा ने
कहा कि गुरु गोबिंद सिंह की फ़ोटो को कंप्यूटर से छेड़छाड़ की गई है।

0 100

A 17-year-old boy from Thane who had gone missing Monday was found dead in Matheran. The body was found by the Matheran police Tuesday and the Thane police have sent a team to investigate the death. Mast Naresh Daga, a student of St Xavier’s College, had left his house in Wagle Estate, Thane, Monday morning. “The boy generally used to return after 9 pm, as he had his tuition after college. However, he didn’t return till midnight and his parents started checking. They realised he had neither gone to the college nor had he gone for his tuition classes. So they came to us,” said senior inspector S Malekar of Wagle Estate police station.

The police registered a missing person complaint Tuesday morning and started looking for the boy. “As part of procedure, we sent his photograph to nearby police stations as well. We then got information that the body of the boy had been found by the Matheran police,” said DCP Sunil Lokhande.

A Matheran police officer, when contacted, said, “His body was found near Garbett point, which is far from the railway station. It seems he fell, or jumped from a height. We are not sure of the time of death. We found the body in the evening and realised it matched the description sent to us from Thane.”

According to the police, the cause of death is yet to be ascertained. “The boy has injuries on his body. However, local police have prima facie told us it could be a suicide case. We will be sure once the post-mortem report comes in,” Lokhande added.

The boy, whose father is a businessman in Thane, had withdrawn Rs 500 from an ATM and his last location on phone on Monday afternoon was Mulund.

 

0 82
भारत में मुसलमानों की सबसे बड़ी संस्था ‘जमीयत उलमा-ए-हिन्द’ की उत्तर प्रदेश विंग..
कल दिनांक÷ 9 दिसंबर 2017,
दिन÷ शनिवार,
समय÷ दोपहर 2 बजे,
स्थान÷ यूपी प्रेस क्लब,
हज़रत गंज, लखनऊ में *प्रेस कान्फ्रेंस* का आयोजन कर रही है।
*प्रेस कान्फ्रेंस* में 12 दिसंबर 2017 को आयोजित *राष्ट्रीय एकता सम्मेलन* से संबंधित बातचीत के अलावा हाल ही में असम के 48 लाख हिंदू-मुसलमानों के समर्थन में आये सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भी संबोधित किया जायेगा जिनका मुक़दमा सुप्रीम कोर्ट में जमीयत उलमा-ए-हिन्द ने ही लड़ा था।
मुख्य अतिथि÷
मौलाना अरशद मदनी साहब,
अध्यक्ष, जमीयत उलमा-ए-हिन्द.
अध्यक्षता÷
मौलाना अशहद रशीदी साहब,
अध्यक्ष, जमीयत उलमा उत्तर प्रदेश.
इनके अलावा देश के कई अन्य वरिष्ठ धर्मगुरु भी *राष्ट्रीय एकता सम्मेलन* में शिरकत कर मुल्क की एकता और भाईचारे को बढ़ाने की बात करने के लिये उपस्थित रहेंगे।

ओपिनियन

0 48
Four Professors of IIT-Kanpur got a reprieve from the Allahabad High Court on Wednesday when it stayed action against them in connection with harassment...

स्वास्थ्य