राजनीति

0 324

आम आदमी पार्टी ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह मैनिफेस्टो हमारे लिए गीता, बाइबिल, कुरान, गुरुग्रंथ साहिब की तरह है और अगले पांच साल आम आदमी पार्टी क्या करेगी, उसके लिए यह मैनिफेस्टो हमें गाइड करेगा।

इस ऐलान के साथ केजरीवाल ने बीजेपी पर घोषणा पत्र न लाने के लिए निशाना साधा उन्होंने कहा, ‘बीजेपी अपना घोषणा पत्र नहीं ला रही है क्योंकि, उन्हें पता नहीं शर्म आ रही है या नहीं, लेकिन लोकसभा से पहले जो वादे किए थे उन्हें पूरा करना तो दूर उन पर काम भी शुरू नहीं किया।’ केजरीवाल ने बताया कि उनका मैनिफेस्टो चार महीने की बहुत बड़ी टीम की मेहनत का नतीजा है जिसकी अध्यक्षता आशीष खेतान ने की थी। इस मैनिफेस्टो में 70 सूत्रीय कार्यक्रम का ऐलान किया गया है जिसमें दिल्ली से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर बात की गई है। इनमें महिलाओं, बुजुर्गों, बच्चों से लेकर युवाओं, गरीबों, मध्य वर्ग आदि हर नागरिक को शामिल करने की कोशिश की गई है।

aap kejriwal

आम आदमी पार्टी के कुछ बड़े वादे हैं:

1. दिल्ली जनलोकपाल बिल

2. स्वराज विधेयक

3. दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा

4. बिजली बिल आधे किए जाएंगे

5. दिल्ली का अपना पॉवर स्टेशन

6. बिजली वितरण कंपनियों में प्रतिस्पर्धा की शुरुआत

7. दिल्ली को सोलर सिटी बनाने की योजना

8. 20,000 लीटर मुफ्त पानी

9. 200,000 सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण

10. 500 नए सरकारी स्कूल, 20 नए कॉलेज

11. निजी स्कूलों की फीस पर निगरानी

12. लास्ट माइल कनेक्टिविटी

13. महिला सुरक्षा बल

14. हर मोबाइल फोन पर एक सुरक्षा या एसओएस बटन की सुविधा

15. वाई-फाई दिल्ली

16. खुदरा में कोई प्रत्यक्ष विदेशी निवेश नहीं

17. 8 लाख रोजगार के अवसर

18. ठेके के सभी पद नियमित किए जाएंगे

19. 1984 के दंगों पीड़ितों के लिए न्याय

20. 10 से 15 लाख सीसीटीवी कैमरे

0 310

AAP के उम्मीदवार एक साल में हुए दोगुने अमीर  

आई आई इन सेस्क नई दिल्ली-  आम आदमी पार्टी इतना भी ‘आम’ नहीं है। असोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के मुताबिक आम आदमी पार्टी ने विरोधी कांग्रेस और बीजेपी की तरह ही कई करोड़पति उम्मीदवारों को टिकट दिए हैं। दिसंबर 2013 के मुकाबले आम आदमी पार्टी के औसत उम्मीदवार इस बार दोगुने से ज्यादा अमीर हैं। कांग्रेस में प्रति उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 14.25 करोड़ से घटकर 9.60 करोड़ हो गई है। बीजेपी में भी प्रति उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 8.29 करोड़ से घटकर 7.96 करोड़ हो गई है। दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के प्रति उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 2.49 करोड़ से बढ़कर 5.89 करोड़ हो गई है।

आम आदमी पार्टी का जन्म ईमानदार राजनीति के तर्क पर हुआ था लेकिन विरोधी उम्मीदवारों की तरह यहां भी उन लोगों को टिकट मिले हैं जिनके ऊपर आपराधिक केस दर्ज हैं। आप के 23 उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस दर्ज हैं। इनमें से 11 पर गंभीर मामलों के आरोप हैं। कांग्रेस के 21 प्रत्याशियों पर क्रिमिनल केस हैं और इनमें से 11 पर गंभीर आरोप हैं। सबसे ज्यादा बीजेपी में 27 वैसे उम्मीदवार हैं जिन पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें से 17 प्रत्याशियों पर गंभीर अपराध के आरोप हैं।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में कुल उम्मीदवारों के 17 पर्सेंट लोगों पर आपराधिक मामले चल रहे हैं। इनमें से 11 पर गंभीर अपराध के केस दर्ज हैं। एडीआर ने सतर्क करते हुए बताया है कि 19 विधानसभा क्षेत्रों में कम से कम तीन उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले चल रहे हैं।

सिन्धुवासिनी का ब्लॉग मेरा पहला वोट केजरीवाल को…….

अमीर कैंडिडेट्स के मामले में कांग्रेस का कोई मुकाबला नहीं है। इसके 70 प्रत्याशियों में से 59 की संपत्ति करोड़ों में है। कांग्रेस के बाद अमीर प्रत्याशियों के मामले में बीजेपी आती है। बीजेपी के कुल 69 उम्मीदवारों में से 50 करोड़पति हैं। आम आदमी पार्टी के 70 उम्मीदवारों में से 44 करोड़पति हैं। सभी पार्टियों में सबसे अमीर उम्मीदवार अकाली दल के मनजिंदर सिंह सिरसा हैं। इसके बाद आम आदमी पार्टी की पर्मिला टोकस हैं। इनकम टैक्स रिटर्न के मुताबिक पांच वैसे कैंडिडेट भी हैं जिनकी सालाना आमदनी एक करोड़ से ज्यादा है। इन पांच में दो आम आदमी पार्टी के हैं। बाकी तीन उम्मीदवार बीजेपी, कांग्रेस और अकाली के हैं।

इस बार दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों पर किस्मत आजमा रहे कुल 673 उम्मीदवारों में से 230 करोड़पति हैं। 2013 के दिसंबर में हुए चुनाव में कुल 796 उम्मीदवारों में 265 में से प्रत्येक की संपत्ति एक करोड़ से ज्यादा थी। इस बार कुल 80 प्रत्याशियों ने अपनी संपत्ति एक लाख से कम बताई है। इनमें से कोई भी कांग्रेस, बीजेपी और ‘आप’ से नहीं है। अखिल भारत हिन्दू महासभा के उम्मीदवार सुशील कुमार मिश्रा ने अपनी संपत्ति शून्य बताई है। कांग्रेस और आप सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। बीजेपी 69 और अकाली एक सीट पर चुनाव लड़ रही है। दिल्ली में 7 फरवरी को सभी 70 सीटों पर मतदान है। चुनावी नतीजे 10 फरवरी को आएंगे।

0 331

 

undefined

 

आई आई इन सेस्क नई दिल्ली -दिल्ली के दंगल में आखिरी जोर लगाने के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद मोर्चा संभाल रहे है प्रधानमंत्री शनिवार दोपहर 3 बजे कड़कड़डूमा में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे. चुनाव से पहले दिल्ली की चारों दिशाओं, यानी पूर्व, पश्चिम, उत्तर और दक्षिण में उनकी चार रैलियां होनी हैं. हर रैली में 30 से 40 हजार लोगों को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है.

दिल्ली में बीजेपी की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार किरण बेदी को आज प्रधानमंत्री की आवाज मिलेगी. खराब गले की वजह से दिल्ली की सड़कों पर बिना बोले प्रचार कर रही किरण बेदी के पक्ष में प्रधानमंत्री मोदी खुद प्रचार करेंगे. ऐसा पहली बार होगा जब प्रधानमंत्री किरण बेदी का नाम लेकर लोगों से वोट मांगेंगे. शनिवार को कड़कड़डूमा में होने वाली रैली में किरण बेदी भी मंच पर मौजूद होंगी. इसके अलावा उत्तर-पूर्व दिल्ली के सभी 17 उम्मीदवार भी मंच पर होंगे. वित्त मंत्री अरुण जेटली को चारों रैलियों का इंचार्ज बनाया गया है .

इसके अलावा केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, उमा भारती, स्मृति ईरानी, मनोहर लाल खट्टर, नवजोत सिद्धू, रविशंकर प्रसाद और मनोज तिवारी भी रैली करेंगे. इससे पहले बीजेपी की मुख्यमंत्री उम्मीदवार किरण बेदी ने शुक्रवार को हाउसिंग के मुद्दे पर अपना 20 सूत्री ब्लूप्रिंट जारी किया. इससे पहले बेदी ने बुधवार को महिला सुरक्षा और गुरुवार को युवाओं और शिक्षा को लेकर अपना एजेंडा पेश किया था. वहीं बीजेपी का चुनावी वॉर रूम शनिवार से काम करने लगेगा. ये वॉर रूम बीजेपी के दिल्ली दफ्तर में होगा, जहां चुनावी मंथन से लेकर चुनाव प्रबंधन का पूरा कामकाज होगा. यहीं से चुनाव प्रचार पर नियंत्रण रखा जाएगा.

0 289

जयंती की चिट्ठी पर CBI ने शुरू की जांच
आई आई एन डेस्क नई दिल्ली –

सीबीआई ने पूर्व पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन के कार्यकाल में कंपनियों को दी गई पर्यावरणीय मंजूरियों की जांच के लिए तीन नई शुरुआती जांच (पीई) दर्ज की हैं। नटराजन को जल्द इन पर स्पष्टीकरण के लिए बुलाया जा सकता है। इसके साथ ही सीबीआई द्वारा दर्ज पीई की संख्या बढ़कर पांच हो गई है।

सीबीआई ने इन नई पीई के बारे में पूरी तरह चुप्पी साधी हुई है। ये पीई इसी महीने दर्ज की गईं। इस बारे में संपर्क किए जाने पर एजेंसी के संयुक्त निदेशक (नीति) तथा मीडिया रिलेशंस के इंचार्ज आरएस भट्टी ने कोई जवाब नहीं दिया।

सीबीआई ने इससे पहले पिछले साल अक्टूबर में पर्यावरण मंत्रालय के अज्ञात अधिकारियों, जिंदल स्टील ऐंड पावर लि. और जेएसडब्ल्यू स्टील के खिलाफ दो पीई दर्ज की थीं।

0 335

आई आई एन डेस्क नई दिल्ली –   आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली चुनाव में उनकी पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिलने का दावा किया है। केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा है कि दिल्ली में ठीक एक साल बाद ‘आप’ फिर सरकार बनाएगीअरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘मैं पूरी दिल्ली में घूम रहा हूं और 24 घंटे जनता के बीच में रहता हूं। आज मैं आपको ये बताने के लिए आया हूं कि दिल्ली की जनता ने हमें जिताने का मन बना लिया है। इसलिए आम आदमी पार्टी पूरे और भारी बहुमत से दिल्ली में सरकार बनाने जा रही है।’। उन्होंने कहा 14 फरवरी को इस्तीफा दिया था 15 फरवरी को शपथ लूंगा

 

अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

केजरीवाल का कहना था कि 10 फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आएंगे और 15 फरवरी को वह दिल्ली के सीएम पद की शपथ लेंगे। अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के पिछले विधानसभा चुनावों से पहले भी ऐसा ही दावा किया था और उनकी पार्टी दूसरे नंबर पर रहने के बावजूद सरकार बनाने में कामयाब रही थी।

केजरीवाल ने शुक्रवार को ही सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर कहा कि बीजेपी ने दिल्ली चुनावों में पहले ही हार मान ली है और विपक्ष की तरह व्यवहार कर रही है। केजरीवाल ने ऐसा बीजेपी के उनसे रोज पांच सवाल पूछने वाली बात पर कहा था। शुक्रवार को ही बीजेपी ने उनसे फिर पांच सवाल पूंछे है

 

0 263

आई आई एन डेस्क
पूर्व केंद्रीय मंत्री जयंती नटराजन के कांग्रेस छोड़ने के बाद उत्तराखंड में भी पार्टी के अंदर बगावत की आहट सुनाई देने लगी है जयंती की तरह राज्य के पूर्व सीएम विजय बहुगुणा ने भी ‘लेटर बम’ फोड़ा है।

हरीश रावत के खिलाफ रैली करेंगे विजय बहुगुणा

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने मौजूदा मुख्यमंत्री हरीश रावत को चिट्ठी लिखकर अपनी ही सरकार के विरोध में 15 फरवरी को जनाक्रोश रैली करने की चेतावनी दी है।

बहुगुणा ने कहा है कि मौजूदा सीएम ने उनके विधानसभा क्षेत्र सितारगंज में जमीन के नियमितीकरण का मुद्दा सालभर से लंबित रखा है। इससे पट्टाधारकों को राहत नहीं मिल पाई है। दोनों कांग्रेसी नेताओं के बीच 36 का आंकड़ा किसी से छिपा नहीं है। इससे पहले हरीश रावत भी बहुगुणा के सीएम रहने के दौरान उनके कामकाज के खिलाफ चिट्ठी लिख चुके हैं।

 बहुगुणा ने सीएम से इस मामले का जल्द निस्तारण करने का अनुरोध किया। साथ ही चेतावनी भी दी कि मंत्रिमंडल में इस पर जल्द फैसला नहीं हुआ तो 15 फरवरी को ऊधमसिंह नगर में जनाक्रोश रैली करेंगे।

 

0 345

 

 

 

http://navbharattimes.indiatimes.com/thumb/msid-46068580,width-630,resizemode-4/Shazia-Ilmi-More-Beautiful-Than-Kiran-Bedi-Markandey-Katjus-Tweet-Slammed.jpg

 

आई आई एन डेस्क नई दिल्ली –

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज और प्रेस काउंसिल के पूर्व चेयरमैन जस्टिस काटजू के मुताबिक दिल्ली चुनाव में बीजेपी ज्यादा खूबसूरत शाजिया इल्मी को अपना सीएम कैंडिडेट बनाती, तो उसकी जीत पक्की थी! हल्के-फुल्के अंदाज में की गई काटजू की इस टिप्पणी को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी खूब खिंचाई हो रही है।

काटजू ने लिखा है, ‘मेरा मानना है कि शाजिया इल्मी किरन बेदी की तुलना में काफी खूबसूरत हैं। अगर बीजेपी शाजिया इल्मी को सीएम कैंडिडेट बनाती, तो उसकी जीत पक्की थी।’

उन्होंने आगे लिखा है, ‘लोग खूबसूरत चेहरों को वोट करते हैं। क्रोएशिया में भी ऐसा ही होता है। यहां तक कि मुझ जैसा शख्स भी जो सामान्यत वोट नहीं डालता (क्योंकि मुझे तकरीबन हर भारतीय नेता दुर्जन नजर आता है) वह भी शाजिया को वोट दे देता।’

काटजू की इन टिप्पणियों पर जब कुछ लोगों ने आपत्ति जताई तो उन्होंने लिखा, ‘कुछ लोगों ने मेरी पिछली पोस्ट पर आपत्ति जाहिर की है। उन्हें मैं अपना सेंस ऑफ ह्यूमर सुधारने की सलाह दूंगा। यह पोस्ट हल्के-फुल्के अंदाज में शेयर की गई थी, उसे इसी तरह लिया जाए।’

काटजू ने इससे पहले बॉलिवुड ऐक्ट्रेस कटरीना कैफ को देश का राष्ट्रपति बनाने की सलाह दे डाली थी। उन्होंने तब कहा था कि क्रोएशिया में भी एक सुंदर महिला को राष्ट्रपति बनाया गया है।

0 309

आई आई एन डेस्क नई दिल्ली –  आम आदमी पार्टी ने नरेंद्र मोदी को के कपड़ों के डिजाइन को लेकर उन पर निशाना साधा है। पार्टी के नेता और दिल्ली के पूर्व मंत्री सोमनाथ भारती ने कहा, यहां लोग बगैर कपड़ों के सोते हैं और हमारे प्रधानमंत्री ने ऐसा सूट पहना है जिसपर उनका नाम लिखा है। यह सरकार कर क्या रही है?’

‘हैदराबाद हाउस’ में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ शिखर वार्ता के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बंद गले का जो सूट पहन रखा था, उस पर कढ़ाई के जरिए महीन अक्षरों में सैकडों दफा रोमन लिपि में ”नरेंद्र दामोदरदास मोदी” लिखा हुआ था।

 

शोभा डे ने भी मोदी के इस पहनावे पर चुटकी ली है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘क्या कोई मुझे नमो के दर्जी का कॉन्टैक्ट दे सकता है? मैं भी अपने लिए एक वैसा ही सूट बनवाना चाहती हूं।’
इस मुद्दे पर सोशल मीडिया में बहस छिड़ी हुई है। इस बाबत एक शख्स ने ट्विटर पर लिखा, ”मोदी कुर्ता’ अच्छा हो सकता है, पर ‘मोदी सूट’ काफी खीझ दिलाने वाला है।’

कांग्रेस प्रवक्ता संजय झा ने ट्वीट कर चुटकी ली, ‘यदि ये सच है कि मोदी के सूट पर कढ़ाई के जरिए उनका नाम लिखा था तो ऐसा पहली बार हुआ है और यह आत्म-मुग्धता चौंकाने वाली है। चीजों को बढ़ा-चढ़ाकर पेश करने वाले स्वयंभू।’

लंदन ईवनिंग स्टैंडर्ड अखबार के मुताबि मोदी के इस सूट कपडा लन्दन की सैंविल रो स्ट्रीट की जानी मानी कंपनी ऐड शैरी ने बनाया था  हालांकि, यह सूट तैयार करने वाले जेड ब्लू के बिपिन चौहान ने मोदी के सूट के लिए कपड़ा लंदन की इस कंपनी से आने की पुष्टि नहीं की है। उनका कहना है कि इस बारे में जानकारी नहीं दी जा सकती है।

हॉलैंड ऐंड शेरी के एक प्रतिनिधि ने  बताया कि ऐसा नाम लिखा कपड़ा उनके खास कलेक्शन का हिस्सा है। इस कंपनी का भारतीय कंपनी डिगजैम से टाई-अप है, जो इसका कपड़ा बेचती है हॉलैंड ऐंड शेरी के ऐसे कपड़े की कीमत 1,000 से 1,500 पाउंड (करीब 93,500 से 1,40,200 रुपये) प्रति मीटर होती है और एक सूट तैयार करने में करीब 6 से 7 मीटर कपड़ा लगता है।

0 313

 

 

आई आई एन डेस्क नई दिल्ली –

जयंती नटराजन के ‘लेटर बम’ के बाद कांग्रेस पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बचाव में उतर आई है। राहुल पर लगाए गए गंभीर आरोपों से बौखलाई कांग्रेस ने जयंती पर जवाबी हमला बोला। यूपी सरकार में पर्यावरण मंत्री रहीं नटराजन ने राहुल गांधी पर आरोप लगाते हुए शुक्रवार को पार्टी छोड़ दी थी।

 

राहुल गांधी पर नटराजन ने लगाए गंभीर आरोप       

 

                                                                                            

स्नूपगेट पर जबरन बयान दिलाने के जयंती के आरोपों पर सिंघवी ने कहा कि इस बारे में पार्टी कि विचारधारा बिल्कुल स्पष्ट रही है। कांग्रेस के घोषणापत्र में भी इस पर पार्टी की राय साफ है। यूपीए का कोई मंत्री उसका क्रियान्यवनय करता है, तो उसमें उलझन की कोई बात नहीं है। उन्होंने कहा कि स्नूपगेट मामले में नटराजन सहित कांग्रेस की चार महिला नेताओं ने एक साथ बैठकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। यह सिर्फ नटराजन को नहीं कहा गया था। प्रवक्ता का यही काम है, इस पर आपत्ति क्या थी? अगर उन्हें आपत्ति ही थी तो वह मंत्री और प्रवक्ता पद से इस्तीफा दे देतीं।

सिंघवी ने कहा कि जयंती ने नियमागिरी के बारे में जो कुछ कहा है, वह तथ्यों के आधार पर गलत है। राहुल गांधी जयंती के मंत्री बनने से पहले ही नियमागिरी गए थे।

 

जयंती नटराजन के लेटर बम पर राहुल को घेरेगी बीजेपी

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने जयंती को अवसरवादी बताते हुए उनके आरोपों को तथ्यात्मक रूप से गलत करार दिया। उन्होंने कहा कि जयंती नटराजन को उन्हें मंत्री पद से हटाए जाने की वजह ‘जयंती टैक्स’ कहने वालों से पूछनी चाहिए। सिंघवी ने कहा कि जयंती ने यह सब बीजेपी के इशारे पर कर किया है। दिल्ली चुनावों में मसाला तैयार करने के लिए यह सब किया गया है।

पार्टी ने कहा था मोदी पर हमला करो :जयन्ती  नटराजन   

     

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने शुक्रवार शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जयंती के आरोपों को एक-एक कर खारिज किया। उन्होंने जयंती पर तीखे कटाक्ष भी किए। सिंघवी ने कहा, ‘जयंती नटराजन ने बिना लोकसभा चुनाव लड़े चार कार्यकाल सांसद के रूप में बिताए, उन्होंने अब इस प्रकार के अवसरवादी और आंडबर से ओत-प्रोत आरोप लगाए हैं। मैं समझता हूं कि पूरी दुनिया में नटराजन ही होंगी, जो अपने को हटाने का कारण नहीं जानतीं।’ बता दें नटराजन ने उन्हें यूपीए सरकार में पर्यावरण मंत्री पद से हटाने को लेकर राहुल पर आरोप लगाए थे।

 

0 244

 

आई आई एन डेस्क नई दिल्ली – केंद्र सरकार में वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमन ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के लिए 5 सवालों की दूसरी किश्त पेश की। सीतारमन ने कहा कि केजरीवाल ने अब तक पिछले सवालों के जवाब नहीं दिए हैं। उन्होंने कहा कि जनता उनके जवाब सुनकर ही वोट दे।

सीतारमन ने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि हम पुराने सवाल उठा रहे हैं, लेकिन हम वही सवाल पूछ रहे हैं जिनके जवाब ‘आप’ ने अब तक नहीं दिए हैं।

उन्होंने केजरीवाल और अन्य आप नेताओं के तंज पर पलटवार करते हुए कहा, ‘हम 100 से भी ज्यादा सवाल पूछेंगे। इसे हल्के में न लेते हुए गंभीरता से जवाब दें। बीजेपी कभी डिबेट से नहीं भागती। आम आदमी पार्टी का डीएनए बहस नहीं बल्कि मुद्दों से भागना है।’

 निर्मला सीतारमण 

नीचे पढ़िए भाजपा के 5 सवालों की दूसरी किश्त-

1. आम आदमी पार्टी जो कैंपेन चला रही है, जिस तरह से वोट मांग रही है, उसे देखकर लगता है कि उसका काम आउटसोर्स हो गया है। क्या समर्थन करने के लिए आपको वॉलनटिअर्स दिल्ली में नहीं मिल रहे हैं? बांग्लादेश, दुबई से वोट मांगने के लिए फोन क्यों किए जा रहे हैं? भारत विरोधी तत्वों से मिलकर दिल्ली में कैंपेन क्यों चला रही है?

2. चुनाव के चंदे का हिराब क्यों नहीं देती आम आदमी पार्टी? सीतारमन ने आरोप भी लगाया कि आम आदमी पार्टी देश के बाहर से फंड ले रही है।

3. आम आदमी पार्टी से महिला नेताओं का पलायन हो रहा है। पार्टी महिला विरोधी क्यों है?

4. चुनाव आयोग समेत संवैधानिक संस्थाओं का अपमान क्यों करती है ‘आप’? पार्टी चुनाव आयोग के आदेश को क्यों नहीं मानती?

5. आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में लोकायुक्त को मजबूत क्यों नहीं बनाया?

 

ओपिनियन

0 77
By Vipin Agnihotri With every passing day, Muslim youngsters are joining BJP. For them, the lure is a “slice of the development pie”. “There is...